स्ट्रेच मार्क्स

स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए, कोई भी पुराने, प्रेगनेंसी मार्क्स घरेलु उपाय द्वारा

कई बार त्वचा पर खिंचाव से रंगहीन लकीर या धारियां बन जाती है। इन निशानों को ही स्ट्रेच मार्क्स कहा जाता है। समय के साथ ऐसे निशान कम हो जाते है परन्तु पूरी तरह से गायब नहीं होते है। स्ट्रेच मार्क्स पेट, हाथ, कोहनी के पास, पैरों की पिंडलियों, जांघ आदि अंगों पर हो सकते है। स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए? यह जानने से पहले आइए पता करते है कि स्ट्रेच मार्क्स कैसे बनते है।

स्ट्रेच मार्क्स कैसे बनते है

हमारी त्वचा तीन परतों को मिलकर बनती है। सबसे ऊपरी परत को एपिडर्मिस, मध्य परत को डर्मिस और सबसे निचली परत को हायपोडर्मिस कहते है। स्ट्रेच मार्क्स मुख्यतः बीच वाली परत के कारण बनते है। ऊपरी परत में पैदा हुए खिंचाव के कारण मध्यम परत के तंतु या कोशिका टूटने लगती है जिसके कारण स्ट्रेच मार्क्स बन जाते है। शुरु-शुरु में ये निशान हलके गुलाबी या लाल रंग के होते है, परन्तु समय के साथ ये चमकीली रंगहीन धारियां बन जाती है। जिन्हें स्ट्रेच मार्क्स की संज्ञा दी जाती है।

स्ट्रेच मार्क्स किन कारणों से हो सकते है

स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए प्रेगनेंसी में

ऐसे निशान गर्भावस्था, मांसपेशियों के निर्माण, अचानक वचन बढ़ने या घटने आदि कारणों से हो सकते है। सभी कारको का नीचे संक्षिप्त में विवरण दिया हुआ है।

प्रेगनेंसी के दौरान पड़े स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए

महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान स्ट्रेच मार्क्स की समस्या से जूझना पड़ता है। बच्चे के विकास के साथ-साथ महिलाओं के पेट पर खिंचाव बढ़ने लगता है जिसके कारण पेट पर स्ट्रेच मार्क्स बन जाते है। जिन महिलाओं का ऑपरेशन से डिलीवरी होती है उनमें ये समस्या और भी गंभीर हो जाती है।  ये स्ट्रेच मार्क्स बहुत ही जिद्दी किस्म के होते है। इनसे छुटकारा पाना आसान नहीं होता है।

व्यायाम के कारण स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए

कसरत के कारण स्ट्रेच मार्क्स की समस्या पुरुषों में ज्यादा देखने को मिलती है। व्याययाम के दौरान मांसपेशियों में खिंचाव पड़ता है। जिसके फलस्वरूप पीठ, जांघों, और कंधों पर स्ट्रेच मार्क्स उभर आते है। खिलाडियों में स्ट्रेच मार्क्स की समस्या ज्यादा देखने हो मिलती है।

वजन में अचानक परिवर्तन के कारण पड़े स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए

स्ट्रेच मार्क्स वजन में अचानक आई कमी या बढ़ोतरी से भी बनते है। वजन के अचानक बढ़ने या घटने से पेट, जांघों आदि पर खिंचाव पैदा होता है, जिससे इन अंगों की त्वचा पर निशान पड़ जाते है। हालाँकि ऐसे निशान गहरे नहीं होते है। ऐसे स्ट्रेच मार्क्स स्त्रियों और पुरुषों दोनों में देखने को मिलता है।

अनुवांशिक बदलाव के कारणस्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए

शरीर में होने वाले अनुवांशिक हार्मोन्स में अचानक बदलाव के कारण भी स्ट्रेच मार्क्स बन जाते है। किशोरावस्था के दौरान भी हमारे शरीर में बहुत से परिवर्तन होते है, जिनके कारण भी त्वचा पर स्ट्रेच मार्क्स बन जाते है।

स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाये इसके घरेलु उपाय

बाजार में बहुत से स्ट्रेच मार्क्स मिटाने वाली क्रीम और लोशन उपलब्ध है। परन्तु जरुरी नहीं की ये पूरी तरह असरदार हो। ज्यादातर ऐसी क्रीम या लोशन रसयानो का उपयोग करके बनाई जाती है। इनके नियमित उपयोग से शरीर पर साइड इफेक्ट्स पैदा हो सकते है। स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए प्राकृतिक रूप से कई औषधियां उपलब्ध है। जिनका उपयोग करके आप आसानी से स्ट्रेच मार्क्स की समस्या से छुटकारा पा सकते है। स्ट्रेच मार्क्स हटाने के कुछ प्रभावी घरेलु उपाय नीचे बताए गए है।

पानी का भरपूर सेवन करने से

हमारे शरीर में उत्पन्न होने वाली बहुत सी बिमारियों को पानी से नियंत्रित किया जा सकता है। पानी हमारे रक्त में मौजूद ऑक्सीजन को संयोजित करता है, जिससे हमारा रक्तसंचार सही बना रहता है। जिसके फलस्वरूप शरीर की कोशिकाएं सुचारु रूप से कार्य करती है और होने वाले खिंचवा को नियंत्रित रखती है। पानी हमारे शरीर में होने वाले हार्मोन्स के बदलावों को भी संयमित रखता है। जिसके कारण हमारी त्वचा पर किसी प्रकार के स्ट्रेच मार्क्स नहीं बनते है।

अरण्डी के तेल से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलु उपाय

स्ट्रेच मार्क्स हटाने में अरण्डी का तेल बहुत लाभकारी सिद्ध होता है। अरण्डी के तेल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर लगभग दस मिनट तक मालिश करें। उसके बाद उस जगह को किसी कपड़े से बांधकर आधे घंटे तक गुनगुने पानी की भाप दीजिये या फिर उस भाग को गरम पानी में भीगे कपडे से सिंकाई करिये। एक महीने तक नियमित ऐसा करने से स्ट्रेच मार्क्स हटाये जा सकेंगे।

एलोवेरा से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलु उपाय

त्वचा सम्बन्धी रोगों में एलोवेरा रामबाण की तरह काम करता है। कील मुहांसों के दाग, काले घेरे या त्वचा पर किसी प्रकार का निशान हो, एलोवेरा सभी के लिए उपयोग किया जा सकता है। एलोवेरा के गूदे को अच्छे से पीस कर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाने से इससे छुटकारा मिलता है।

अंडे से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलु उपाय

अंडा प्रोटीन और एमिनो एसिड का अच्छा स्रोत होता है। स्ट्रेच मार्क्स पर अंडे की सफेदी को सूख जाने तक लगा के रखें। फिर सादे पानी से उसे अच्छे से धो लें। इसके बाद उसपर जैतून या नारियल का तेल लगाएं। लगातार ऐसा करने से स्ट्रेच मार्क्स गायब होने लगेंगे। 

हल्दी से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलु उपाय

पानी या तेल में हल्दी मिलकर मिश्रण तैयार कर लें। तैयार मिश्रण को नियमित दिन में दो बार स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। हल्दी में मौजूद औषधीय गुण जल्दी ही स्ट्रेच मार्क्स के निशान मिटा देते है।

चीनी और बादाम तेल मिश्रण

एक चम्मच चीनी में बादाम के तेल और नींबू की कुछ बूंदें डालकर मिश्रण तैयार कर लें। इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर प्रतिदिन नहाने से पहले दो से तीन मिनट तक लगाकर रखें। ऐसा नियमित एक महीने तक करने से स्ट्रेच मार्क्स कम होने लगेंगे।

नींबू का रस लगाये

अम्लीय गुण से युक्त नींबू त्वचा की झाइयों, काले घेरे, कील मुहांसे के दाग आदि के उपचार में सहायक होता है। नीम्बू के रस को स्ट्रेच मार्क्स पर धीरे-धीरे उंगली से गोल घुमाते हुए लगाएं। रस के सूख जाने के बाद इसे हल्के गुनगुने पानी से धो लें। नींबू के रस में गुलाब जल तथा ककड़ी का रस बराबर मात्रा में मिलकर भी लगाया जा सकता है। इसके नियमित उपयोग से स्ट्रेच मार्क्स बहुत जल्दी मिट जायेंगे।

आलू के रस से स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाए

इसमें मिलने वाले विटामिन और खनिज त्वचा की कोशिकाओं को बढ़ाने में सहायक होते है। आलू को काटकर उसके टुकड़े को स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर अच्छे से लगाए या फिर आप आलू का रस निकाल कर भी लगा सकते है। सूख जाने के बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। इसके लगातार उपयोग से कुछ ही दिनों में स्ट्रेच मार्क्स हटाये जा सकते हैं।

कोका बटर से स्ट्रेच मार्क्स हटाने घरेलु उपाय

गर्भावस्था के दौरान कोका बटर से नियमित मालिश करने से स्ट्रेच मार्क्स नहीं पड़ते है। क्यूंकि कोका बटर त्वचा में जरुरी नमी बनाए रखता है जिससे खिंचाव नहीं उत्पन्न होता है। पुराने स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए कोको बटर से दिन दो से तीन बार नियमित मालिश करें। इससे बहुत जल्दी ही स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा मिल जायेगा।

ओलिव ऑयल से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलु उपाय

इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा को मुलायम करने के साथ ही जरुरी नमी बनाये रखता है। गर्भावस्था के दौरान ओलिव आयल लगाने से स्ट्रेच मार्क्स नहीं बनते है।

अखरोट के पेस्ट का उपयोग

स्ट्रेच मार्क्स हटाने में अखरोट बहुत उपयोगी होता है। अखरोट का पेस्ट बनाकर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। लेप के सूख जाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें। ऐसा नियमित करने से कुछ ही दिनों में स्ट्रेच मार्क्स कम होने लगेंगे।

एप्रीकॉट पेस्ट का उपयोग

फल के गूदे का पेस्ट बनाकर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। लेप को कम से कम पंद्रह मिनट तक लगा रहने दें। फिर सादे पानी से धो लें। इसके नियमित उपयोग से स्ट्रेच मार्क्स जल्दी ही गायब होने लगेंगे।

ग्लिसरीन से मालिश करें

आप ग्लिसरीन में नींबू की दो से तीन बूंदें मिलकर मिश्रण तैयार कर लें। तैयार मिश्रण से स्ट्रेच मार्क्स पर धीरे-धीरे मालिश करते हुए लगाएं। ऐसा दिन में दो से तीन बार करें। ग्लिसरीन के उपयोग से त्वचा में नमी बनी रहेगी और स्ट्रेच मार्क्स मिटने लगेंगे।

सेब के सिरके का सेवन करें

आप सेब के सिरके को पानी में बराबर मात्रा में मिलकर घोल तैयार करलें। इस तैयार मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर बीस मिनट तक लगाकर रखें। सूख जाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें। स्ट्रेच मार्क्स से आपको जल्दी ही छुटकारा मिल जायेगा।

स्ट्रेच मार्क्स न हटने पर क्या करें

वैसे तो प्राकृतिक घरेलु उपचार से स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा मिल जाता है। पुराने और जिद्दी स्ट्रेच मार्क्स भी घरलू उपचार से ठीक हो जाते है। परन्तु फिर भी यदि आपके स्ट्रेच मार्क्स ठीक नहीं हो रहे है, तो आप स्किन स्पेसलिस्ट से परामर्श ले सकते है। डॉक्टर की परामर्श के बाद ही बाजार में उपलब्ध क्रीम या लोशन का उपयोग करें।

स्ट्रेच मार्क्स को कॉस्मेटिक सर्जरी से भी हटाया जा सकता है। परन्तु कॉस्मेटिक सर्जरी मंहगी होती है और इसमें जोखिम भी हो सकता है। इसीलिए बहुत जरुरी होने पर ही सर्जरी का विकल्प चुनें। हालाँकि घरेलु उपचार से सभी को लाभ होता है। पर हो सकता है कुछ लोगों को लाभ न हो। इसीलिए प्राकृतिक घरेलु उपचार अपने विवेक से करें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!