health tips

स्वस्थ रहने के २० जबरदस्त उपाय – Home Remedy Health Tips

निरंतर विज्ञान में होती तरक्की नए नए अविष्कारों को जन्म दे रही है फिर जाहे वो अंतरिक्ष विज्ञान हो, आधुनिक रक्षा प्रणाली हो, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान या फिर जाहे वो मेडिकल साइंस में होती नवीनतम टेक्नोलॉजी का विकास हो। आधुनिक जीवन ने हमें अपनी संस्कृति और परंपरा से दूर कर दिया है। हमें याद होगा जब हम छोटे थे तो कैसे हमारी हर समस्या का उपाय हमारी दादी माँ के पास रहता था। हमें कोई भी समस्या हो हम फ़ौरन भाग के अपनी दादी माँ के पास जाते थे और वो झट से अपने घरेलु नुस्खों की मदद से हमारी समस्या का समाधान कर देती थी। आज की इस भाग दौड़ की जिंदगी में हम उन घरेलु परन्तु कामगार नुस्खों को भूलते जा रहे है। आज हमें हलकी सी सर्दी जुखाम क्या हो जाती है हम तुरंत दवाई लेके खा लेते है। परन्तु हम अपने शरीर के इम्युनिटी को बढ़ने की कोई चिंता नहीं करते। वो शायद इसीलिए क्यूंकि हम जानते ही नहीं की कैसे ऐसा किया जा सकता है। वो पुराने घरेलु नुस्खे ना केवल हमारी शारीरिक इम्युनिटी को बढ़ने में मदद करते है बल्कि बहुत सी बिमारियों का इलाज भी छिपा हुआ है। आइये आज हम ऐसी ही कुछ बिमारियों के घरेलु इलाज के बारें में जानते है।

१. रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) – अनार का रस रोजाना पीने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है और ये हमारे दिल के लिए भी बहुत अच्छा होता है। अनार का रस नियमित पीने से ये रक्तचाप पीड़ित लोगों के रक्तचाप को कण्ट्रोल में रखता है।

२. पेट में जलन (एसिडिटी) – पेट में जलन होने पर आप एलोवेरा के पत्तों की जेली निकल कर पीस कर पीने से पेट में ठंडक और भरी पन दूर होता है। भोजन करने के बाद अगर आप नियमित रूप से तुलसी के पत्तों का सेवन करते है तो भी आपको पेट के जलन में रहत मिलती है और आपकी पाचन क्रिया भी अच्छी बनी रहती है।

३. खांसी – लौंग का एक टुकड़ा चूसने के आपको खांसी में राहत मिलती है और आपके गले की खसकसाहट दूर होती है। लौंग आपकी खांसी को पूरी तरह से ठीक तो नहीं करेगा पर ये आपको बहुत आराम पहुँचता है। भोजन के बाद लौंग का एक टुकड़ा चूसने से आपको एसिडिटी में भी राहत मिलती है।

४. पेट की गैस – रोजाना सुबह खाली पेट पानी के साथ लहसुन की एक कली चबाने से पेट और गैस्ट्रिक की बहुत सी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है। सादे पानी के साथ आप दिन में किसी भी समय एक चम्मच अजवाइन के साथ थोड़ा सा काला नमक मिला कर खा लिया जाये तो इससे भी आपकी गैस्ट्रिक और पाचन क्रिया में सुधर होगा।

५. बुखार – अगर आपको बहुत तेज़ बुखार है तो आप नियमित दवाओं के साथ घरेलु उपचार भी कर सकते है जैसे की हाथो और पैरों के नाखूनों में हींग का घोल बनाकर लगाने से बुखार बहुत तेजी से उतरता है। बहुत तेज बुखार होने की स्थिति में आप मरीज के सर पर सादे या ठन्डे पानी की पट्टियां रख सकते है जिससे की बुखार मरीज के सर पर नहीं चढ़ता और इससे बुखार उतरने में भी मदद मिलती है।      

६. माइग्रेन – माइग्रेन एक ऐसी बीमारी है जिससे लोग बहुत लम्बे समय तक पीड़ित रहते है और बहुत इलाज करने पर भी रहत नहीं मिलती है। माइग्रेन से ग्रस्त व्यक्ति अगर रोज़ सुबह खली पेट एक सेब छिलका सहित खाते है तो उनको सर दर्द में बहुत ही आराम मिलता है।

७. सर दर्द – सर पर चन्दन का लेप लगाने से ठंडक मिलती है जिससे सर दर्द में बहुत राहत मिलती है। इसके अलावा चन्दन का लेप चहरे पर लगाने से आपकी सुंदरता में भी निखार आता है। 

८.  सूखी खांसी – आप पांच से छः खजूर लेके उनका बीज निकल कर आधा लीटर दूध में डाल कर बीस मिनट पकाएं। इस तरह पकाये गए दूध को दिन में दो से तीन बार पीने से सूखी खांसी में बहुत आराम मिलता है।

९.  बलगम की समस्या – एक चम्मच शहद में बराबर मात्रा में अदरक का रस मिलाके पीने से बलगम को बहार निकलने में मदत मिलती है। साथ ही साथ ये मिश्रण सूखी खांसी और गले की खराश में भी बहुत लाभदायक है।

१०. मुहांसे और ब्लैकहेड्स – आप एक खीरा लीजिये और उसको कद्दू कास करके अपने चहरे, आँखों के पास और गर्दन पर पंद्रह मिनट लगाइये जिससे आपको मुहांसो और ब्लैकहेड्स से छुटकारा मिल जायेगा। आप खीरे के दो गोल टुकड़े काट लें और उससे अपनी आँखों पर रखे जिससे आपकी आँखों को ठंडक मिलेगी और इससे आँखों में होने वाली जलन से भी छुटकारा मिलेगा।

११. खून की कमी – खून की कमी को दूर करने के लिए सेब, गाजर, चुकंदर, खुबानी अंजीर, बथुआ, पालक अदि हरी सब्जियों का सेवन करें। इसके साथ आप तीन से चार खजूर बीज निकल करके पीस लें और उसमें घी मिलके दूध के साथ पीने से भी खून की कमी दूर होती है।

१२. डार्क सर्किल – टमाटर और आलू का पेस्ट डार्क सर्किल में बहुत फायदेमन्द होता है और इसको बनाना भी बहुत आसान है। आप एक टमाटर के पेस्ट के साथ एक नीम्बू का रस, एक चुटकी हल्दी पाउडर और एक चम्मच बेसन डालकर पांच मिनट फेटे। इस तैयार मिश्रण को अपनी आँखों के चारो तरफ लगाएं और इसे कम से कम बीस मिनट के लिए छोड़ दें। बीस मिनट बीत जाने पर आप सादे पानी से अपने चहरे को अच्छे से धो लें। ऐसा नियमित करने से आपके चेहरे से डार्क सर्किल गायब हो जायेंगे।

१३. कान का दर्द – एक चम्मच लहसुन के तेल में एक चुटकी शहद और एक चुटकी हल्दी पाउडर डालके अच्छे से मिला लीजिये। तैयार मिश्रण की दो दो बूंद दोनों कानों मैं डालने से कान के दर्द में आराम मिलता है।

१४. कब्ज़ – अगर आपको कब्ज़ की समस्या है तो आप रोज़ सुबह खाली पेट सौंफ का पानी पीजिये। सौंफ में कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम,विटामिन सी इत्यादि पाएं जाते है। रात में सोने से पहले एक चम्मच सौंफ को एक गिलास पानी में भीगा दीजिये और सुबह खली पेट उसका पानी छान के पी लीजिये। इससे आपकी कब्ज़ की समस्या का निदान हो जायेगा।  इसके अलावा इस क्रिया को नियमित दोहराने से मोटापा, तनाव, हार्मोनल डिस्बैलेंस, पेट में दर्द आदि कई बिमारियों में भी कारगर सिद्ध होता है।

१५. हैंगओवर – रात में अधिक मदिरा का सेवन करने से कभी कभी आपको हैंगओवर (सर का भारीपन) समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आप एक गिलास पानी में एक नीम्बू का रस मिलके पी लें, इससे आपके सर का भारीपन (हैंगओवर) दूर हो जायेगा और आपका बढ़ा हुआ शुगर लेवल भी कण्ट्रोल हो जायेगा।

१६. बालों का झड़ना – नारियल का तेल न केवल खाना बनाने के काम आता है अपितु इसमें बहुत से औषधिये गुण भी पाए जाते है। नरियल का तेज नियमित तौर पर बालों में लगाने से न केवल बालों का गिरना काम होता है अपितु वो लम्बे और घने भी हो जाते है। नारियल के तेल में लरिक एसिड बहुतायत मात्रा में पाया जाता है जो की हमारी त्वचा के लिए बहुत लाभकारी है। नारियल का तेल नियमित रूप से त्वचा पर लगाने से कील, मुहासों, दाग धब्बो आदि के लिए भी फायदेमन्द है।

१७. मोटापा कम करना – मोटापा कम करने का रामबाण तरीका है आप फाइबर युक्त भोजन और फलों का सेवन करें। मोटापा कम करने में खीरा बहुत लाभदायक है। खीरे में अच्छी मात्रा में पानी और घुलनशील फाइबर पाया जाता है जोकी हाइड्रेशन को बढ़ावा देते है जिससे वसा का छय होता है और मोटापे में कमी आती है।

१८. घुटनों का दर्द – घुटनों के दर्द में हल्दी और चूने का बना लेप बहुत लाभकारी है। इस लेप को बनाने के लिए आप हल्दी और चूने को बराबर मात्रा में मिलकर सरसों के तेल में थोड़ी देर तक गर्म करलें। फिर इस तैयार लेप को नियमित घुटनों पर रखने से दर्द में आराम मिलता है।  

१९. कमर का दर्द – हल्दी किसी भी दर्द को ख़तम करने की अचूक औषधि है। आप रात को सोने से पहले कुनकुने दूध में हल्दी डालकर उसका सेवन करें। आपको दर्द में रहत मिलेगी। इसके अलावा आप एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच शहद और एक चम्मच मेथी का पाउडर डालकर अच्छे से मिला लें और इसका सेवन करें, आपको कुछ ही देर में कमर दर्द से राहत मिल जाएगी।

२०. सर्दी – बदलते मौसम के साथ बहुत से लोगों को सर्दी की समस्या का सामना करना पड़ता है जो की एक आम बात है। सर्दी हो जाने पर जितना हो सके आपको गुनगुना पानी पीना चाहिए और साथ ही साथ गुनगुने पानी में थोड़ा सा नमक डालके गरारे करने चाहिए। इसके अलावा आप आधा चम्मच शहद में कुछ बूँद नीम्बू का रस और एक चुटकी इलाइची पाउडर डालकर मिश्रण तैयार करलें। इस मिश्रण का दिन में दो से तीन बार सेवन करें। आपको सर्दी और खांसी – जुखाम में बहुत फायदा करेगी। 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!