घर बैठे कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन करें

कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन, कोरोना प्रमाणपत्र कैसे सुधारे

जैसा की आप सब को पता है की कोविड वैक्सीन के बाद सभी को एक सर्टिफिकेट दिया जाता है। कोरोना टीकाकरण प्रमाणपत्र इस बात को दर्शाता है आपने कोविड वैक्सीन ले लिया है। इसके साथ ही इस प्रमाणपत्र की बहुत सी उपयोगिता है जिसके बारें में हमने अपने लेख कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट डाउनलोड करने के बारे में बताया है। कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन के लिए आप ऑनलाइन प्रोसेस कर सकते हैं।

आज के मौजूदा हालत में कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र एक दस्तावेज बन चुका है। इस प्रमाणपत्र को रेल यात्रा, मेडिकल सुविधाएं, नौकरी आदि विभिन्न कामों के लिए दिखाना पड़ता है। इस दस्तावेज में अगर कोई गलत जानकारी दर्ज हो गई है तो आपको उसे तुरंत ठीक करा लेना चाहिए। कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र में क्या क्या गलतियां हो सकती है और उनको कैसे ठीक किया जा सकता है, आप इस लेख को पढ़ कर जान सकते है।

कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन से पहले जानिए इसमें में दर्ज जानकारियां कहाँ से आती है?

टीकाकरण प्रमाणपत्र पर दर्ज जानकारियां दो तरह की होती है। पहली आपकी व्यक्तिगत जानकारी जो आप पंचीकरण करते समय भरते है। दूसरी कोविड वैक्सीन के बारें में जानकारी जिसे वैक्सीन केंद्र दर्ज करता है। इन दोनों जानकारियों को मिलाकर कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र तैयार किया जाता है।

कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र में क्या गलतियां हो सकती है?

कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन - ऑनलाइन सुधारे कोरोना प्रमाणपत्र
ऑनलाइन सुधारे कोरोना प्रमाणपत्र

वैक्सीन केंद्र की तरफ से दर्ज जानकारियों में गलती की बहुत कम सम्भावना होती है। क्यूंकि वैक्सीन के बारें में जानकारी पहले ही उनके कंप्यूटर पर दर्ज होती है जिसे वो आपके पंकजीकरण संख्या के साथ जोड़ देते है। इसीलिए गलतियों की सम्भावना आपकी तरफ से होने की गुंजाइस ज्यादा है।

टीकाकरण पंजीकरण करते समय आप नाम, जन्मतिथि, लिंग, मोबाइल नंबर, फ़ोटो आईडी आदि जानकारियां भरते है। इन जानकारियों में क्या गलतियां हो सकती है वो नीचे दिया गया है। ऐसी गलतियों को हम एक बार सुधार सकते है। परन्तु अगर दुबारा कोई गलती हो जाती है तो उसको सुधारा नहीं जा सकता है। इसीलिए हमें गलती सुधारते समय बहुत सचेत रहना चाहिए।

  • नाम गलत दर्ज होना या नाम की स्पेलिंग का गलत हो जाना।
  • पुरुष या महिला के लिंग का गलत दर्ज हो जाना।
  • वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति की जन्मतिथि गलत दर्ज हो जाना।
  • फोटो आई डी का गलत दर्ज हो जाना।

कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र/ वैक्सीन सर्टिफिकेट में किन गलतियों को ठीक किया जा सकता है?

टीकाकरण प्रमाणपत्र में हम नाम, लिंग, जन्मतिथि और फ़ोटो आईडी सम्बंधित जानकारियों में सुधार कर सकते है। इन गलतियों को हम घर बैठे सुधार सकते है। इसके लिए हमें कहीं जाने की जरुरत नहीं पड़ती है। परन्तु ध्यान रहे ऐसा हम सिर्फ एक बार ही कर सकते है।

कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट करेक्शन का प्रोसेस क्या है? कोरोना प्रमाणपत्र कैसे सुधारे?

टीकाकरण प्रमाणपत्र की गलतियां आप घर बैठे अपने लैपटॉप या स्मार्ट फ़ोन के जरिए ठीक कर सकते है। गलतियों को सुधारने की प्रक्रिया हमने चरणबद्ध तरीके से नीचे बताया हुआ है।

  • अपने लैपटॉप या मोबाइल पर आप कोविड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाइट पर आपको ऊपर की तरफ ‘रजिस्टर/साइन इन सेल्फ’ का विकल्प दिखाई देगा। उसको क्लिक करके आगे बढ़ जाएं।
  • आप ‘साइन इन सेल्फ’ पर जाकर अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • आपको वेबसाइट की तरफ से एक वोटीपी (OTP) भेजा जाएगा, जिसको आपको दिए गए स्थान पर दर्ज करना होगा। ऐसा करते ही आप वेबसाइट पर साइन इन’ हो जाएंगे।
  • अंदर आपको ‘Raise an Issue’ का विकल्प दिखाई देगा। उसको क्लिक करके आगे बढ़ जाएँ।
  • आगे बढ़ने पर आपको ‘What is the issue’ का विकल्प दिखाई देगा। उसको क्लिक करके आगे बढ़ जाएँ।
  • फिर आपको ‘Correction in Certificate’ का विकल्प मिलेगा, उसको क्लिक करके आगे बढ़ जाएँ।
  • ऐसा करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आपकी व्यक्तिगत जानकारियां दिखाई देंगी। यहाँ से आप अपने नाम, लिंग, फ़ोटो आईडी और जन्मतिथि सम्बंधित जानकारियां सुधार सकते है।
  • सभी जानकारियां सही भरने के बाद ‘Submit’ बटन पर क्लिक करके जानकारी सुरक्षित कर दें।
  • इतना करते ही आपके द्वारा दर्ज सही जानकारियां आपके कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र में दिखने लगेंगी।

टीकाकरण प्रमाणपत्र को सत्यापित कैसे करें?

कोविड प्रमाणपत्र लोगों को वैक्सीनेशन के सबूत के तौर पर दिया जाता है। इस प्रमाणपत्र के साथ किसी छेड़खानी से बचाने के लिए QR कोड दिया गया है। जिसको स्कैन करके आप प्रमाणपत्र की सत्यता जांच सकते है। QR कोड से प्रमाणपत्र की सत्यता जांचने के लिए नीचे दिए निर्देशों का अनुसरण करें।

  • अपने लैपटॉप या स्मार्ट फ़ोन से कोविड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाइट पर आपको ऊपर की तरफ ‘रजिस्टर/साइन इन सेल्फ’ का विकल्प दिखेगा। उसको क्लिक करके आगे बढ़ जाएं।
  • अगले पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर डालें।
  • वेबसाइट की तरफ से आपको एक वोटीपी (OTP) भेजा जाएगा। जिसको आपको दिए गए स्थान पर दर्ज करना होगा। दर्ज करने के बाद ‘Login’ पर क्लिक करके आगे बढ़ जाएं।
  • अंदर जाने पर आपको प्रमाणपत्र सत्यापित करने का विकल्प मिलेगा। उसको क्लिक करने पर आपको ‘Scan QR Code’ का विकल्प दिखेगा।
  • Scan QR Code के विकल्प को चुने। इसके बाद आपको एक QR कोड दिखाई देगा। साथ ही आपकी स्क्रीन पर डिवाइस कैमरा को चालू करने का एक नोटिफिकेशन दिखाई देगा, जिसे जारी रखें।
  • इसके बाद आप अपने कैमरे से QR कोड को स्कैन करें।
  • स्कैनिंग प्रक्रिया पूरी होने पर आपको ‘Certificate Successfully Verified’ का एक मैसेज दिखाई देगा। साथ ही आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसेकि नाम, लिंग, जन्मतिथि, पहचान पत्र आदि जानकारियां भी दिखाई देगी। जिसको पढ़कर आप प्रमाणपत्र की सत्यता जान सकते है।
  • अगर आपके टीकाकरण प्रमाणपत्र पर दर्ज जानकारियां सही नहीं होंगी, तो आपको ‘Certificate Invalid’ का सन्देश दिखाई देगा।
  • इस प्रक्रिया के जरिए आप कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र की सत्यता जांच सकते है।

आवश्यक जानकारी

इस लेख में हमने आपको बताया की टीकाकरण प्रमाणपत्र में क्या क्या गलतियां हो सकती है और कोरोना प्रमाणपत्र कैसे सुधारे। गलतियों से बचने के लिए आप टीकाकरण पंजीकरण के दौरान ही सही जानकारी दर्ज करें। आपके प्रमाणपत्र पर सभी जरुरी जानकारियों के साथ एक QR कोड भी दिया होता है। इस कोड को स्कैन करके भी आप प्रमाणपत्र की सत्यता जांच सकते है।

यहाँ ध्यान देने वाली एक बात और है, कि कुछ लोग टीकाकरण के बाद अपना प्रमाणपत्र सोशल मिडिया या व्हाट्स एप्प आदि पर साझा कर देता है। हमें ऐसा बिलकुल नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से कोई भी दुष्ट प्रवृति का व्यक्ति उसका गलत उपयोग कर सकता है। वो आपके प्रमाणपत्र की जानकारियों को बदलकर किसी को धोखा देने या अपने निजी लाभ के लिए उपयोग कर सकता है।

भारत सरकार ने भी दिशा निर्देश जारी करके लोगों को ऐसा करने से मना किया है। यह एक बहुत जरुरी दस्तावेज है, इसे संभलकर रखें और जरुरत होने पर ही किसी को दिखाएं। कोविड वैक्सीनेशन या कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट के बारें में आपको कोई भी जानकारी चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में अपने सवाल डाल सकते है। उन सवालों का जवाब हम जल्दी देने की कोशिश करेंगें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!