करियर ग्रोथ

करियर ग्रोथ कैसे करें | तेजी से आगे बढ़ने के कारगर तरीके

आज के इस प्रतिस्पर्धा से भरे माहौल में अपने करियर के लक्ष्यों को प्राप्त या करियर ग्रोथ आसान नहीं है। करियर में अपने लक्ष्यों को पाने के लिए जरुरी है कि लोग अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक विकास में निवेश करें। समय समय पर अपने कौशल को विकसित करते रहें। करियर के लक्ष्यों का ठीक से निर्धारण करें और उसको पाने के लिए ईमानदारी से कोशिश करें।

करियर में तेजी से सफलता पाने के लिए अपने नियोक्ता को अपना मूल्य प्रदर्शित करें, अपने ज्ञान का विस्तार करें, अपने कौशल को निखारे।  आपकी कंपनी कैसे काम करती है, इससे खुद को परिचित कराएं। उन परियोजनाओं कर काम करने की कोशिश करें जिनसे आपको नए लोगों से मिलने और नए कौशल को विकसित करने में मदद मिले। समय-समय पर अपनी उपलब्धियों का रिकॉर्ड रखें और कुछ वर्षों बाद अपनी नौकरी बदलने में झिझके नहीं। नए अवसरों के लिए अपनी आँखे सदैव खुली रखें। अपने करियर में तेजी से आगे बढ़ने और अधिक पैसा कमाने के लिए हम आपको कुछ तरीके बताने जा रहे है।

करियर ग्रोथ कैसे करें

  • कंपनी के पदानुक्रम को पहचाने – लोगों को अपनी कंपनी के पदानुक्रम को पहचानना आना चाहिए। उनको कंपनी की व्यवस्था और स्थितियों के बारें में सम्पूर्ण जानकारी रखनी चाहिए। ऐसा करने से उनको कंपनी की निर्णय लेने की प्रक्रिया की सही जानकारी मिल सकती है जिससे की उनको संभावित पदोन्नति के अवसरों का पता चल सकता है।
  • समय और संसाधन की बचत करें  – लोगों को कंपनी में अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहिए। अपने समय का सदुपयोग करते हुए अपने कार्यों को समय पर पूरा कर लेना चाहिए। इसके अलावा कंपनी के कागज़, बिजली और आपूर्ति जैसे संसाधनों को भी बर्बाद न करने का प्रयास करना चाहिए।
  • कंपनी के लक्ष्यों की ओर काम करें – लोगों को अपनी कंपनी के लक्ष्यों और मिशन को पूरा करने की ओर कार्य करना चाहिए। लोगों को चाहिए कि वो कुशलता से कार्य करें और अपने कार्यों की गुणवत्ता में सुधार करते रहें। अपनी क्षमता के अनुसार कंपनी के अन्य कर्मचारियों की मदद लेते हुए परियोजनाओं को समय पर पूरा करने की कोशिश करें। इससे आपके परिवेक्षक आपको एक मूल्यवान कर्मचारी के रूप में देखेंगे। 
  • कार्यों की स्वयं पहल करें – कंपनी की छोटी से बड़ी परियोजनाओं को शुरू करने तक, कार्यों की स्वयं पहल करें और अपने मालिक को खुद को हर छोटी बाद बताने का मौका न दें।
  • अपनी उपलब्धियों का विवरण रखें – लोगों को कंपनी में किए अपने कार्यों और उपलब्धियों का विवरण रखना चाहिए। यह विवरण आपके प्रदर्शन समीक्षा के दौरान काम आता है। आप अपने मालिक को अपनी कार्यों और उपलब्धियों के बारें में बताकर बेहतर वेतन या पदोन्नति की बात कर सकते है।
  •  नए संपर्क बनाए – करियर ग्रोथ के लिए उन लोगों से संपर्क बनाना चाहिए जिन्होंने अपने लक्ष्यों को प्राप्त किया है और उनसे सीखने की कोशिश करें। अगर संभव हो तो उनसे व्यक्तिगत रूप से मुलाकात करके उनसे उनकी सफलता के बारें में बात करें। और यदि मिलना संभव न हो तो आप ई-मेल के जरिए संपर्क साध सकते है। लोगों से जुड़ने और उनके संपर्क में लगातार बने रहने के अपने फयदे होते है। पदोन्नति के समय या नई नौकरी की तलाश करते समय ऐसे लोगों के संदर्भ बहुत मददगार साबित होते है।
  • अपनी प्रशंसा व्यक्त करें – लोगों को अपने परिवेक्षक को नियमित रूप से यह दिखाना चाहिए कि आप उनके द्वारा प्रदान किये गए अवसरों के कितने आभारी है। उनके प्रति अपनी निष्ठा और धन्यवाद प्रकट करने से आपको अपने करियर में आगे बढ़ने में मदद मिलती है।

अपने कौशल को निखारे करियर ग्रोथ करने के लिए

  • पढ़ने और सीखने के लिए समय निकालें – लोगों को अपने कौशल को निखारने के लिए लगातार पढ़ते और सीखते रहना चाहिए। इसके लिए आप समाचार पत्र और अपने क्षेत्र के शीर्ष व्यक्तियों द्वारा लिखे गए सम्बंधित लेखों को पढ़कर या सुनकर उसका लाभ ले सकते है। सोशल मीडिया पर समय  बर्बाद करने से बेहतर इस समय का उपयोग प्रासंगिक चीजों या नई तकनीक के बारें में जानने में लगाएं।
  • अपने व्यसायिक ज्ञान को बढ़ाएं – अपने खाली समय में कुछ को शिक्षित करने के अलावा व्यवसायिक सम्मेलनों में जाएं, कक्षाएं लें और अपने सामने आने वाले किसी भी पेशेवर विकास के अवसरों का लाभ उठाएं। अपने आपको उद्योग की वर्त्तमान स्थिति से अवगत रखें जिससे भविष्य में आप एक बेहतर उम्मीदवार बन सकते है।
  • प्रतिनिधि बनना सीखें – करियर में आगे बढ़ते हुए लोग अंततः प्रबंधन के स्तर तक पहुंचते है। वह पहुंचने के बाद कार्यों को किसे देना है और कैसे करवाना है, यह एक प्रमुख कौशल जरुरत बन जाता है। किसी परियोजना के कार्यान्वयन को और अधिक कुशल बनाने के लिए अपनी टीम के सदस्यों के कौशल का अधिकतम लाभ उठाने के लिए भूमिकाएं कैसे सौपेंगे, आपको आना चाहिए। यदि आप अभी प्रबंधन की स्थिति में नहीं है, तो आप काल्पनिक तरीकों से उन परियोजनाओं के कार्यान्वयन और उससे जुडी बातों का प्रबंधन करें। इसके लिए आप अपने से उच्च अधिकारी के तरीकों का भी अध्ययन कर सकते है।
  • अपनी टीम पर भरोसा करें – यदि आपके पास कोई टीम है तो आपको उसपर भरोसा करना सीखना पड़ेगा। आपको अपनी इस मासिकता को छोड़ना होगा कि आप ही काम को बेहतर और सही तरीके से कर सकते है। आपको अपनी टीम के कौशल का सही उपयोग करना आना चाहिए। ऐसा करने से आप आगे चलकर एक प्रभावी प्रबंधक बन सकते है।

समय-समय पर नौकरी बदलना

  • करियर ग्रोथ और सैलरी ग्रोथ के लिए हर तीन साल में नौकरी बदलें –  लोगों को अपने मन में से इस धारणा को निकाल देना चाहिए कि नौकरी बदलना कंपनी के साथ विश्वासघात है। ऐसा देखा गया है कि निरंतर अपनी नौकरी बदलने वाले लोग नौकरी न बदलने वालों की तुलना में ज्यादा पैसे कमाते है। इसके अलावा नौकरी बदलने वाले लोग नए लोगों के संपर्क में आते है, नए कौशल हासिल करते है और नई-नई कंपनियों के संचालन और प्रबंधन के तरीकों को सीखते है।
  • स्टार्टअप कंपनी में नौकरी जरुर करें – अगर मौका मिले और संभव हो तो लोगों को अपने करियर में एक बार स्टार्टअप कंपनी में जरूर कार्य करना चाहिए। क्यूंकि स्टार्टअप कंपनी आपको अपने द्वारा सीखी गई बातों को सबसे प्रभावी ढंग से व्यवहार में लाने का अवसर देती है। आपकी कंपनी के पदाधिकारिओं के साथ सीधी पहुंच होती है, जिससे आप इसके संगठन, संचालन और लक्ष्यों को आकार देने में मदद कर सकते है। ऐसा करके आपको भी बहुत कुछ सीखने को मिलेगा जोकि आगे चलकर आपके करियर को और निखरेगा।
  • चुनौतीपूर्ण नौकरी चुनें – लोगों को कोशिश करनी चाहिए कि जहाँ तक संभव हो सके ऐसी नौकरी की तलाश करें जोकि उनके कौशल से अधिक हो। जैसाकि कहा जाता है आवश्यकता ही आविष्कार की जननी होती है। इसी प्रकार जब चुनौतियाँ आपके कौशाल से अधिक हो जाती है, तो आपको नई क्षमताएं विकसित करने का अवसर मिलता है। अपने नौकरी के दौरान कभी भी खुद को संतुष्ट न होने दें। अपने आपको हमेशा नई चुनौतियों के लिए तैयार रखें।

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!